Pages

Tuesday, February 18, 2014

ஶிவன் - 1801 - 1840



गोमते नम: கோ³மதே நம:
गोमत्प्रियाय கோ³மத்ப்ரியாய
गोमयाय கோ³மயாய
गोमातृ परिसेविताय கோ³மாத்ருʼ பரிஸேவிதாய
गयाप्रयाग निलयाय க³யாப்ரயாக³ நிலயாய
गायकाय கா³யகாய
गायत्री वल्लभाय கா³யத்ரீ வல்லபா⁴ய
गायत्र्यादि स्वरूपाय கா³யத்ர்யாதி³ ஸ்வரூபாய
गायत्री जप तत्पराय கா³யத்ரீ ஜப தத்பராய
गायत्री तुल्यरूपाय கா³யத்ரீ துல்யரூபாய
गायत्री मन्त्रजनकाय கா³யத்ரீ மந்த்ரஜனகாய
गीयमान गुणाय கீ³யமான கு³ணாய
गेयाय கே³யாய
गरलग्रीवाय க³ரல க்³ரீவாய
गरुडाग्रज पूजिताय க³ருடா³க்³ரஜ பூஜிதாய
गर्विताय க³ர்விதாய
गराय க³ராய
गर्व नाशकाय க³ர்வ நாஶகாய
गरुडोरग सर्पपक्षिणां पतये க³ருடோ³ரக³ ஸர்பபக்ஷிணாம்ʼ பதயே
गर्भचारिणे - १८२०க³ர்ப⁴சாரிணே - 1820
गर्भाय க³ர்பா⁴ய
गरीयसे க³ரீயஸே
गारुडाय கா³ருடா³ய
गिरिधन्विने கி³ரித⁴ன்வினே
गिरीशानाय கி³ரீஶானாய
गिरिबान्धवाय கி³ரிபா³ந்த⁴வாய
गिरिरताय கி³ரிரதாய
गिरित्राय கி³ரித்ராய
गिरिसुताप्रियाय கி³ரிஸுதாப்ரியாய
गिरिप्रियाय கி³ரிப்ரியாய
गरुडध्वज वन्दिताय க³ருட³த்⁴வஜ வந்தி³தாய
गिरिसाधनाय கி³ரிஸாத⁴னாய
गिरिशाय கி³ரிஶாய
गिरिजा सहायाय கி³ரிஜா ஸஹாயாய
गिरिजानर्मणे கி³ரிஜா நர்மணே
गिरिजापतये கி³ரிஜாபதயே
गिरीन्द्र धन्वने கி³ரீந்த்³ர த⁴ன்வனே
गिरीन्द्रात्मजा संगृहीतार्ध देहाय கி³ரீந்த்³ராத்மஜா ஸங்க்³ருʼஹீதார்த⁴ தே³ஹாய
गिरौ संस्थितायகி³ரௌ ஸம்ʼஸ்தி²தாய
गुरवे -१८४०கு³ரவே -1840

 
Post a Comment