Pages

Monday, February 24, 2014

ஶிவன் 2001 - 2040




चण्डीश्वराय नमःசண்டீ³ஶ்வராய நம​:
चण्डह्रुदयनन्दनायசண்ட³ஹ்ருத³ய நந்த³னாய
चूडामणिधरायசூடா³மணி த⁴ராய
चतुर्मुखायசதுர்முகா²ய
चतुर्बाहवेசதுர்பா³ஹவே
चतुष्पथायசதுஷ்பதா²ய
चतुर्वेदायசதுர்வேதா³ய
चतुर्भावाय சதுர்பா⁴வாய
चतुरायசதுராய
चतुरप्रियायசதுரப்ரியாய
चतुर्भोगायசதுர்போ⁴கா³ய
चतुर्हस्तायசதுர்ஹஸ்தாய
चतुर्मूर्तिधरायசதுர்மூர்தித⁴ராய
चतुराननायசதுரானனாய
चतुर्व्यूहात्मनेசதுர்வ்யூஹாத்மனே
चतुर्विधसर्गप्रभवेசதுர்வித⁴ ஸர்க³ ப்ரப⁴வே
चतुष्षष्टद्यात्मतत्वायசதுஷ்ஷஷ்டத்³யாத்ம தத்வாய
चतुर्वक्त्रात्मनेசதுர்வக்த்ராத்மனே
चतुर्भुजायசதுர்பு⁴ஜாய
चतुर्थार्घ्याय नमः – २०२०சதுர்தா²ர்க்⁴யாய நம​: – 2020
चतुःषष्टिकलानिधये नमःசது​:ஷஷ்டிகலா நித⁴யே நம​:
चतुर्मुखहरायசதுர்முக²ஹராய
चतुर्थसंस्थितायசதுர்த²ஸம்ʼஸ்தி²தாய
चित्रवेषायசித்ரவேஷாய
चित्तायசித்தாய
चित्यायசித்யாய
चित्रायசித்ராய
चित्रगर्भायசித்ரக³ர்பா⁴ய
चितयेசிதயே
चितिरूपायசிதிரூபாய
चित्रवर्णायசித்ரவர்ணாய
चित्संस्थायசித்ஸம்ʼஸ்தா²ய
चिन्त्यायசிந்த்யாய
चिन्तनीयायசிந்தனீயாய
चिन्तितार्थप्रदायசிந்திதார்த²ப்ரதா³ய
चित्रफलप्रयोक्त्रेசித்ரப²லப்ரயோக்த்ரே
चित्राध्वरभागभोक्त्रेசித்ராத்⁴வர பா⁴க³ போ⁴க்த்ரே
चिन्त्यागमपादाङ्गुलयेசிந்த்யாக³மபாதா³ங்கு³லயே
चित्स्वरूपिणेசித்ஸ்வரூபிணே
चित्रचारित्राय नमः – २०४०சித்ரசாரித்ராய நம​: – 2040

 
Post a Comment