Pages

Wednesday, June 18, 2014

ஶிவம் - 5001_5040



भीमकर्मणे नमःபீ⁴ம கர்மணே நம​:
भीमघण्टाकरायபீ⁴மக⁴ண்டாகராய
भीमलिङ्गायபீ⁴மலிங்கா³ய
भीमगुणानुगायபீ⁴மகு³ணானுகா³ய
भीमरूपायபீ⁴மரூபாய
भीमाख्यद्विजंबधूरुभवभीतिभिदेபீ⁴மாக்²யத்³ விஜம்ப³தூ⁴ரு ப⁴வ பீ⁴திபி⁴தே³
भीमादृहासवक्त्रायபீ⁴மாத்³ருʼ ஹாஸ வக்த்ராய
भूमिजार्चितायபூ⁴மிஜார்சிதாய
भूमिदायபூ⁴மிதா³ய
भूमिभारार्तिसंहन्त्रेபூ⁴மி பா⁴ரார்தி ஸம்ʼஹந்த்ரே
भूम्नेபூ⁴ம்னே
भ्रूमघ्ये स्थितायப்⁴ரூமக்⁴யே ஸ்தி²தாய
भौमायபௌ⁴மாய
भौमेशायபௌ⁴மேஶாய
भयहारिणेப⁴யஹாரிணே
भयवर्जितायப⁴யவர்ஜிதாய
भयङ्करायப⁴யங்கராய
भयापहायப⁴யாபஹாய
भयानखायப⁴யானகா²ய
भूयसे नमः பூ⁴யஸே நம​:
भरद्वाजदीक्षागुरुभूतदक्षिण वदनायப⁴ரத்³வாஜ தீ³க்ஷா கு³ரு பூ⁴த த³க்ஷிண வத³னாய
भरद्वाजायப⁴ரத்³வாஜாய
भरद्वाजसमार्चितायப⁴ரத்³வாஜ ஸமார்சிதாய
भरतायப⁴ரதாய
भरायப⁴ராய
भर्गदेवायப⁴ர்க³தே³வாய
भर्गवासायப⁴ர்க³வாஸாய
भर्गायப⁴ர்கா³ய
भर्त्रेப⁴ர்த்ரே
भारतीप्रियायபா⁴ரதீப்ரியாய
भारद्वाजकुलीनातमपूजकायபா⁴ரத்³வாஜ குலீனாதம பூஜகாய
भार्गवायபா⁴ர்க³வாய
भार्यासुतयुक्तायபா⁴ர்யா ஸுத யுக்தாய
भूर्भुवःस्वःपतयेபூ⁴ர்பு⁴வ​:ஸ்வ​:பதயே
भूर्भुवो लक्ष्म्यैபூ⁴ர்பு⁴வோ லக்ஷ்ம்யை
भूर्देवायபூ⁴ர்தே³வாய
भेरुण्डायபே⁴ருண்டா³ய
भैरवायபை⁴ரவாய
भैरवाष्टकसंसेव्यायபை⁴ரவாஷ்டக ஸம்ʼஸேவ்யாய
भैरवनादनादिने नमः ५०४०பை⁴ரவ நாத³நாதி³னே நம​: 5040

 
Post a Comment