Pages

Saturday, June 28, 2014

ஶிவம் - 5281_5320



मञ्जुमञ्जीरचरणाय नमःமஞ்ஜுமஞ்ஜீரசரணாய நம​:
मञ्जुवाससेமஞ்ஜுவாஸஸே
मञ्जुभाषणायமஞ்ஜுபா⁴ஷணாய
मुञ्जिकेशायமுஞ்ஜிகேஶாய
मुञ्जशुभ्राय முஞ்ஜஶுப்⁴ராய
माञ्जिष्टायமாஞ்ஜிஷ்டாய
मौञ्जीयुजेமௌஞ்ஜீயுஜே
मण्डनप्रियायமண்ட³னப்ரியாய
मण्डनमण्डयित्रेமண்ட³ன மண்ட³யித்ரே
मण्डलान्तरगतायமண்ட³லாந்தர க³தாய
मुण्डिनेமுண்டி³னே
मुण्डमालिनेமுண்ட³மாலினே
मुण्डायமுண்டா³ய
मृडरूपायம்ருʼட³ரூபாய
मृडायம்ருʼடா³ய
मृडानीपतयेம்ருʼடா³னீபதயே
मीढुषेமீடு⁴ஷே
मीढुष्ठमायமீடு⁴ஷ்ட²மாய
मेढ्रजायமேட்⁴ரஜாய
मणिसोपानसङ्काशवलिकाय – ५३००மணிஸோபானஸங்காஶவலிகாய – 5300
मणिपूराय नमःமணிபூராய நம​:
मणिविद्धजटाधरायமணிவித்³த⁴ஜடாத⁴ராய
मणिकङ्कणभूषितायமணிகங்கணபூ⁴ஷிதாய
मणिभूषायமணிபூ⁴ஷாய
मणिकुण्डल मण्डितायமணிகுண்ட³ல மண்டி³தாய
मणिसिंहासनासीनायமணிஸிம்ʼஹாஸனாஸீனாய
मणिपूरनिवासकायமணிபூரனிவாஸகாய
मणिमण्डपमध्यस्थायமணிமண்ட³ப மத்⁴யஸ்தா²ய
मणिबन्धविराजितायமணிப³ந்த⁴ விராஜிதாய
मणिमालायமணிமாலாய
मणिभूषितमूर्ध्नेமணிபூ⁴ஷித மூர்த்⁴னே
मणिगणस्फारनागकङ्कणायமணிக³ண ஸ்பா²ரனாக³ கங்கணாய
माणिक्यवासकस्वान्तमन्दिरायமாணிக்ய வாஸகஸ்வாந்த மந்தி³ராய
माणिक्यभूषणायமாணிக்ய பூ⁴ஷணாய
माणिक्यमकुटसंदीप्तशीर्षायமாணிக்ய மகுடஸந்தீ³ப்தஶீர்ஷாய
माणिक्यमकुटोज्ज्वलायமாணிக்ய மகுடோஜ்ஜ்வலாய
म्रुणालतन्तुसंकाशायம்ருணாலதந்து ஸங்காஶாய
मतायமதாய
मन्त्रायமந்த்ராய
मन्त्री नमः – ५३२०மந்த்ரீ நம​: – 5320

 
Post a Comment