Pages

Wednesday, October 22, 2014

ஶிவம் - 8481_8520



शिशुपालविपक्षेन्द्राय नमःஶிஶுபாலவிபக்ஷேந்த்³ராய நம​:
शिशुत्वादिनिर्मुक्ताय ஶிஶுத்வாதி³ நிர்முக்தாய
श्रीशायஶ்ரீஶாய
श्रीशैलपतयेஶ்ரீஶைலபதயே
श्रीशैले मल्लिकार्जुनायஶ்ரீஶைலே மல்லிகார்ஜுனாய
श्रीशैलवासायஶ்ரீஶைலவாஸாய
श्रीषिरर्तुप्रवर्तकायஶ்ரீஷிரர்து ப்ரவர்தகாய
शष्प्यायஶஷ்ப்யாய
शुष्क्यायஶுஷ்க்யாய
शिष्टेष्टदायஶிஷ்டேஷ்டதா³ய
शिष्टायஶிஷ்டாய
शिष्टाराध्यायஶிஷ்டாராத்⁴யாய
शिष्टाचारप्रवर्शकायஶிஷ்டாசார ப்ரதர்ஷகாய
शिष्टपोषणतत्परायஶிஷ்டபோஷண தத்பராய
शिष्टाभिलक्ष्यायஶிஷ்டாபி⁴ லக்ஷ்யாய
शिष्टाचारप्रियायஶிஷ்டாசாரப்ரியாய
शिष्टपूज्यायஶிஷ்டபூஜ்யாய
शिष्यान्तरनिवासायஶிஷ்யாந்தர நிவாஸாய
शिष्यानामकज्ञात्रात्मनेஶிஷ்யா நாமக ஜ்ஞாத்ராத்மனே
शेषस्तुत्याय नमः – ८५००ஶேஷ ஸ்துத்யாய நம​: – 8500
शेषवासुकीसंसेव्याय नमःஶேஷவாஸுகீ ஸம்ʼஸேவ்யாய நம​:
शेषदेवादिपुरुषायஶேஷ தே³வாதி³ புருஷாய
शेष्यशेषकलात्रयायஶேஷ்யஶேஷ கலாத்ரயாய
शेषसंज्ञितायஶேஷ ஸஞ்ஜ்ஞிதாய
श्रेष्ठायஶ்ரேஷ்டா²ய
शस्त्रायஶஸ்த்ராய
शस्त्रहारिनेஶஸ்த்ரஹாரினே
शस्त्रभृतां रामायஶஸ்த்ர ப்⁴ரு'தாம்ʼ ராமாய
श्वसतेஶ்வஸதே
शास्त्रायஶாஸ்த்ராய
शास्त्रे ஶாஸ்த்ரே
शास्त्रकरायஶாஸ்த்ரகராய
शास्त्रवित्तमायஶாஸ்த்ரவித்தமாய
शास्त्रनेत्रायஶாஸ்த்ர நேத்ராய
शास्त्रसंवेद्यायஶாஸ்த்ரஸம்ʼவேத்³யாய
शास्त्रतत्वज्ञायஶாஸ்த்ர தத்வஜ்ஞாய
श्रीसौम्यलक्षणायஶ்ரீஸௌம்ய லக்ஷணாய
श्रीहालास्यनिवासिनेஶ்ரீஹாலாஸ்ய நிவாஸினே
शाक्षरवामबाहवेஶாக்ஷர வாம பா³ஹவே
शिक्षितदानवाय नमःஶிக்ஷித தா³னவாய நம​:

 அனைவருக்கும் தீபாவளி வாழ்த்துகள்!

 
Post a Comment