Pages

Monday, September 29, 2014

ஶிவம் - 7801_7840



विश्वावासाय नमःவிஶ்வாவாஸாய நம​:
विशांपतयेவிஶாம்பதயே
विशालाक्षायவிஶாலாக்ஷாய
विशालपद्मपत्राभायவிஶால பத்³ம பத்ராபா⁴ய
विशालवक्षसेவிஶாலவக்ஷஸே
विशालवक्षोविलसच्चारुहासायவிஶாலவக்ஷோ விலஸச்சாருஹாஸாய
वैश्रवणायவைஶ்ரவணாய
वैश्वानरायவைஶ்வாநராய
वैश्वदेवप्रियायவைஶ்வதே³வ ப்ரியாய
विश्वंभरसमाराध्यायவிஶ்வம்ப⁴ர ஸமாராத்⁴யாய
विश्वभारणकारणायவிஶ்வபா⁴ரண காரணாய
वषट्कारायவஷட்காராய
विश्वनायकायவிஶ்வ நாயகாய
वषट्कारप्रियायவஷட்காரப்ரியாய
विश्ववासिनेவிஶ்வவாஸினே
वषडाकाराय வஷடா³காராய
विश्वस्थायவிஶ்வஸ்தா²ய
विष्णुवल्लभायவிஷ்ணுவல்லபா⁴ய
विष्णुरूपविनोदिनेவிஷ்ணுரூப வினோதி³னே
विष्णुब्रम्हादिवन्द्याय नमः – ७८२०விஷ்ணு ப்³ரம்ஹாதி³ வந்த்³யாய நம​: – 7820
विष्णुवन्द्याय नमःவிஷ்ணுவந்த்³யாய நம​:
विष्णुप्रियायவிஷ்ணுப்ரியாய
विष्णुनेत्रेவிஷ்ணுநேத்ரே
विष्णुमायाविलासिनेவிஷ்ணுமாயா விலாஸினே
विष्णुगर्वहरायவிஷ்ணுக³ர்வஹராய
विष्णुसंकल्पकारकायவிஷ்ணு ஸங்கல்ப காரகாய
विष्णुरूपिणेவிஷ்ணுரூபிணே
विष्णवेவிஷ்ணவே
विष्णुचैतन्यनिलयायவிஷ்ணுசைதன்ய நிலயாய
विष्णुप्राणेश्वरायவிஷ்ணு ப்ராணேஶ்வராய
विष्णुकलत्रायவிஷ்ணு கலத்ராய
विष्णुक्षेत्रायவிஷ்ணுக்ஷேத்ராய
विष्णुकोट्यर्चितांघ्रयेவிஷ்ணு கோட்யர்சிதாங்க்⁴ரயே
विष्णुमायत्मकारिणेவிஷ்ணுமாயத்ம காரிணே
विष्णुप्रसादकायவிஷ்ணு ப்ரஸாத³காய
विष्णुकन्धरपातनायவிஷ்ணு கந்த⁴ர பாதனாய
विष्णुमूर्तयेவிஷ்ணுமூர்தயே
विष्णुलक्ष्यस्वरूपिणेவிஷ்ணு லக்ஷ்ய ஸ்வரூபிணே
विष्ण्वात्मकोत्तरवदनायவிஷ்ண்வாத்மகோத்தர வத³னாய
विष्ण्वात्मकगुह्याय नमः – ७८४०விஷ்ண்வாத்மக கு³ஹ்யாய நம​: – 7840

 
Post a Comment