Pages

Friday, March 14, 2014

ஶிவம் 2561_2600




तपसे नमःதபஸே நம​:
तपस्विनेதபஸ்வினே
तपश्शीलायதபஶ்ஶீலாய
तपःस्वाध्यायनिरतायதப​:ஸ்வாத்⁴யாய நிரதாய
तपस्विजनसेव्यायதபஸ்வி ஜன ஸேவ்யாய
तपोदानफलप्रदायதபோ தா³ன ப²ல ப்ரதா³ய
तपोलोकजनस्तुत्यायதபோலோக ஜன ஸ்துத்யாய
तप्तकाञ्चनभूषणायதப்தகாஞ்சனபூ⁴ஷணாய
तपोनिधयेதபோ நித⁴யே
तपस्सक्तायதபஸ்ஸக்தாய
तपसां फलदात्रेதபஸாம்ʼ ப²லதா³த்ரே
तपोरूपायதபோரூபாய
तपोबीजायதபோபீ³ஜாய
तपोधनधनायதபோத⁴னத⁴னாய
तपसां निधयेதபஸாம்ʼ நித⁴யே
तपनीयनिभायதபனீயனிபா⁴ய
तापसायதாபஸாய
तापसाराध्यायதாபஸாராத்⁴யாய
त्रपाकरायத்ரபாகராய
त्रिपुरान्तकाय नमः – २५८०த்ரிபுராந்தகாய நம​: – 2580
त्रिपुण्ड्रविलसत्फालफलकाय नमःத்ரிபுண்ட்³ர விலஸத் பா²ல ப²லகாய நம​:
त्रिप्रकारस्थितायத்ரிப்ரகாரஸ்தி²தாய
त्रिपुरघ्नायத்ரிபுரக்⁴னாய
त्रिपुरघातिनेத்ரிபுரகா⁴தினே
त्रिपुरकालाग्नयेத்ரிபுரகாலாக்³னயே
त्रिपुरभैरवायத்ரிபுரபை⁴ரவாய
त्रिपुरार्दनायத்ரிபுரார்த³னாய
त्रिपुरारयेத்ரிபுராரயே
त्रिपुरसंहारकायத்ரிபுரஸம்ʼஹாரகாய
त्रिपादायத்ரிபாதா³ய
त्रिपञ्चन्याससंयुतायத்ரிபஞ்சன்யாஸஸம்ʼயுதாய
ताम्बूलपूरितमुखायதாம்பூ³லபூரிதமுகா²ய
त्रिबन्धवेத்ரிப³ந்த⁴வே
त्रिबीजेशायத்ரிபீ³ஜேஶாய
त्र्यम्बकायத்ர்யம்ப³காய
तुम्बवीणायதும்ப³வீணாய
तुम्बवीणाशालिनेதும்ப³வீணாஶாலினே
तुंबीफलप्राणायதும்பீ³ப²லப்ராணாய
तुम्बुरुस्तुतायதும்பு³ரு ஸ்துதாய
तुभ्यं नमः – २६००துப்⁴யம்ʼ நம​: – 2600



download
 
Post a Comment