Pages

Thursday, April 10, 2014

ஶிவம் 3321_3360



नित्यनित्याय नमःநித்ய நித்யாய நம​:
नित्यानन्दायநித்யானந்தா³ய
नित्यमुक्तायநித்யமுக்தாய
नित्यशक्तिशिरसेநித்யஶக்திஶிரஸே
नित्यमुग्रायநித்யமுக்³ராய
नित्यमधिवासितसुवाससेநித்ய மதி⁴வாஸித ஸுவாஸஸே
नित्यचरात्मनेநித்ய சராத்மனே
नित्यमुद्बुद्धमकुटायநித்யமுத்³பு³த்³த⁴ மகுடாய
नित्यसुन्दरायநித்யஸுந்த³ராய
नित्यज्ञानायநித்யஜ்ஞானாய
नित्यवैराग्यायநித்யவைராக்³யாய
नित्यैश्वर्यायநித்யைஶ்வர்யாய
नित्यसत्यायநித்யஸத்யாய
नित्यधृतधैर्यायநித்ய த்⁴ருʼத தை⁴ர்யாய
नित्यक्षमायநித்யக்ஷமாய
नित्यस्वस्थायநித்யஸ்வஸ்தா²ய
नित्यातमबोधायநித்யாதமபோ³தா⁴ய
नित्यादिष्टाश्रयत्वायநித்யாதி³ஷ்டாஶ்ரயத்வாய
नित्यशुद्धायநித்யஶுத்³தா⁴ய
नित्योत्साहाय नमः – ३३४०நித்யோத்ஸாஹாய நம​: – 3340
नित्यानन्दस्वरूपाय नमःநித்யானந்த³ஸ்வரூபாய நம​:
नित्यमङ्गलविग्रहायநித்யமங்க³லவிக்³ரஹாய
नित्यानापायमहिम्नेநித்யானாபாய மஹிம்னே
नित्यबुद्धायநித்யபு³த்³தா⁴ய
नित्यक्रुद्धायநித்யக்ருத்³தா⁴ய
नित्यमङ्गलायநித்யமங்க³லாய
नित्यनीतिशुद्धात्मनेநித்யனீதிஶுத்³தா⁴த்மனே
नीतिमतेநீதிமதே
नीतिकृतेநீதிக்ருʼதே
नीतिविदेநீதிவிதே³
नीतिवत्सलायநீதிவத்ஸலாய
नीतिस्वरूपायநீதிஸ்வரூபாய
नीतिसंश्रयायநீதிஸம்ʼஶ்ரயாய
नीतयेநீதயே
नीतिमतां श्रेष्ठायநீதிமதாம்ʼ ஶ்ரேஷ்டா²ய
नीतिज्ञायநீதிஜ்ஞாய
नीतिकुशलायநீதிகுஶலாய
नीतिधरायநீதித⁴ராய
नीतिवित्तमायநீதிவித்தமாய
नीतिप्रदात्रे नमः – ३३६०நீதிப்ரதா³த்ரே நம​: – 3360

 
Post a Comment